जिम के साथ ही ‘योग’ करने से होते हैं अधिक फायदे

 
फिट रहने के लिए लोग जिम जाते हैं। जो बहुत अच्छी बात है। कई बार लोग सोचते हैं कि जिम जाने से सभी अंगों को फिट रखा जा सकता है। लेकिन लोगों को ये नहीं पता की जिम जाने से सिर्फ वह फिजिकली फिट रहते हैं। आपको बता दें, फिजिकल एक्सरसाइज की पहुंच शरीर के कई अंगों तक नहीं होती है इसलिए जिम के साथ योग करने से इसके लाभ दोगुने हो जाते हैं। जिम से जहां आपको फिजिकल फिटनेस मिलती है वहीं योग आपको फिजिकली और मेंटली दोनों तरह से फिट रखता है। जिम जाने के साथ ही कुछ विशेष आसनों को करने से आप अपनी फिटनेस को पहले से बेहतर बना सकते हैं और इससे आपको जिम की थकान और दर्द से भी राहत मिलेगी।

इंटरनल इंजरी के खतरे से बचाव – शुरू-शुरू में जिम में ज्यादा मेहनत करने या कई बार छोटी-मोटी गलतियों से इंटरनल इंजरी हो जाती है। जिसमें शरीर के अंग दर्द करने लगते हैं। लेकिन ज्यादातर लोग इसे मेहनत करने से होने वाला दर्द मानकर नजरअंदाज कर देते हैं। जबकि कई बार ये किसी तरह की अंदरूनी चोट या खिंचाव भी हो सकता है। योग करने से आपके अंदरूनी अंगों को मजबूती मिलती है और इससे इंटरनल इंजरी का खतरा काफी हद तक कम हो जाता है।

रिकवर होगी बॉडी मसल्स- जिम में शारीरिक मेहनत बहुत ज्यादा होती है इस वजह से मांसपेशियों में खिंचाव होता है और मांसपेशियां मजबूत बनती हैं। लेकिन इस खिंचाव से मांसपेशियों के बहुत से टिशूज टूटते भी हैं जिन्हें शरीर अपने आप ठीक करता रहता है। अगर आप जिम के साथ-साथ योग करते हैं तो मसल टिशूज को रिकवर करने की ये प्रक्रिया तेज हो जाती है। इससे अगले दिन जिम जाने पर, पहले टूटे सभी मसल टिशू ठीक रहते हैं।

शरीर में लचीलापन- योग के नियमित अभ्यास से आपके अंगों में लचीलापन आता है। इस वजह से मांसपेशियां और हड्डियां मजबूत रहती हैं और जिम करने के बाद उनमें दर्द नहीं होता है।

सांसों पर कंट्रोल रहता है– जिम में ट्रेड मिल पर दौड़ने से या बाहर कहीं दौड़ने से कई लोगों की सांस जल्द ही फूलने लगती है। इसकी वजह से जबरदस्ती दौड़ने पर उनकी सांस टूटने लगती है। ऐसे लोग ज्यादा देर तक नहीं दौड़ सकते और जल्द ही थक जाते हैं। योग इन स्थितियों से भी आपको बचाता है। प्रणायाम के नियमित अभ्यास से सांसों पर आपका कंट्रोल रहता है और इससे रेस्पिरेटरी सिस्टम भी ठीक रहता है। इसके अलावा ये शरीर के अन्य महत्वपूर्ण अंगों जैसे लंग्स, हार्ट, किडनी आदि के लिए भी फायदेमंद है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *