रविवार रातभर सीमा पार से फायरिंग, एक ऑफिसर समेत 4 जवान शहीद

रविवार रात जम्मू कश्मीर में सुंदरबनी से लेकर पुंछ तक नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर पाकिस्तानी सेना ने भारी गोलाबारी की। इसमें एक सैन्य अधिकारी समेत 4 जवानों की मौत हो गई। फायरिंग में दो सेना के जवान, सीमा सुरक्षा बल का एक ASI और दो स्थानीय नागरिक जख़्मी हो गए। पाक की फायरिंग का भारतीय जवानों ने मुंहतोड़ जवाब देते हुए पाकिस्तानी सेना की भारतीय चौकियों और रिहायशी क्षेत्रों में रात तक गोलाबारी जारी रखी। इससे कुछ दिन पहले भी पाक सेना ने लगातार फायरिंग की थी।

मिली जानकारी के मुताबिक गोलाबारी सुंदरबनी सेक्टर से लेकर पुंछ तक नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर हुई। पाकिस्तान की गोलाबारी में 15 जैकलाइ यूनिट के कैप्टन कपिल कुंडू निवासी गुरुग्राम (हरियाणा), सिपाही शिविम सिंह, हवालदार राम अवतार व सिपाही रोशन लाल शहीद हो गए। लांस नायक इकबाल अहमद गंभीर रूप से जख्मी हो गए हैं। वहीं पुंछ के शाहपुर सेक्टर में हुई गोलाबारी के दौरान गुलजान व यासिन आरिफ के अलावा सेना का एक जवान किशोर कुमार घायल हो गया जिसे सैन्य अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। वहीं पाक फायरिंग के चलते एलअोसी के आस-पास के 84 स्कूल 3 दिन के लिए बंद कर दिए गए हैं। थोड़े दिन की शांति के बाद यहाँ फिर हालात तनावपूर्ण हो गए। एक स्कूली छात्रा ने बताया कि मैं स्कूल पढ़ने के लिए आई थी लेकिन कल से हो रही गोलाबारी के बाद से स्कूल बंद कर दिए गए हैं।

जिला आयुक्त, राजौरी डॉक्टर शाहिद इकबाल चौधरी ने सुंदरबनी से मंजाकोट सेक्टर तक सीमा से पांच किलोमीटर के दायरे में आने वाले 84 स्कूलों को तीन दिनों तक बंद रखने का आदेश जारी कर दिया है। आयुक्त का कहना है कि अगर इसी तरह से गोलाबारी जारी रही तो स्कूलों को आगे भी बंद रखा जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *